Steel Sector

Steel Workers Federation (SWF)

भिलाई स्टील प्लांट में 9 अक्टूबर को हुए हादसे की जाँच रिपोर्ट

सेंटर आँफ स्टील वर्कर्स (संबद्ध ऐक्टू) की एक जाँच टीम ने 9 अक्टूबर, 2018 को कोक ओवन की बैटरी-11 में डी-ब्लाकिंग के दौरान हुए हादसे की जाँच की. इस हादसे में अभी तक 14 कर्मियों की मौत हो चुकी है तथा गंभीर रूप से घायल हुए 9 कर्मियों का ईलाज चल रहा है जिनमें से 3 कर्मियों की स्थिति काफी गंभीर बनी हुई है.

जाँच टीम ने घटना-स्थल का दौरा किया, कर्मियों से बातचीत की और मृतक व घायल कर्मियों के परिवार वालों से मुलाकात की.

सेंटर ऑफ स्टील वर्कर्स की जांच टीम ने ब्लास्ट फरनेस में हुई दुर्घटना की जांच की

सेंटर ऑफ स्टील वर्कर्स की एक जांच टीम ने 9 अगस्त को भिलाई स्टील प्लांट के ब्लास्ट फरनेस-4 और 5 की स्लैग डिस्पेच रूट की गैलरी सी-5 का लगभग 20 मीटर हिस्सा के गिर जाने की घटना की जांच की. जांच टीम में श्याम लाल साहू, बृजेंद्र तिवारी और घनश्याम त्रिपाठी शामिल थे.

सेंटर ऑफ स्टील वर्कर्स की वार्षिक आमसभा

12 अगस्त को भिलाई स्टील प्लांट में कार्यरत यूनियन सेंटर ऑफ स्टील वर्कर्स (संबद्ध ऐक्टू) की वार्षिक आमसभा सेक्टर-4 स्थित गुजराती भवन में संपन्न हुई. श्रम-संघर्षों में शहीद हुए साथियों की श्रद्धांजलि के साथ अशोक मिरी, आर.के. जायसवाल, हेमंत टंडन की अध्यक्षता और वरिष्ठ साथी शिवकुमार प्रसाद के आतिथ्य में कार्यक्रम की शुरूआत हुई. ए. शेखर राव पर्यवेक्षक के रूप में उपस्थित रहे. जनकवि वासुकि प्रसाद उन्मत्त द्वारा जनगीत की प्रस्तुति के उपरांत महासचिव श्याम लाल साहू ने वार्षिक प्रतिवेदन प्रस्तुत किया और कोषाध्यक्ष बृजेंद्र तिवारी ने वार्षिक आय-व्यय का विवरण दिया.

बीएसपी अस्पताल की कैजुअल्टी के सामने विरोध-प्रदर्शन

भिलाई स्टील प्लांट द्वारा संचालित जवाहरलाल नेहरू चिकित्सा एवं अनुसंधान केंद्र में विगत वर्षों से कार्यरत सफाई ठेका श्रमिकों ने पिछले 3 माह से वेतन का भुगतान न किए जाने के विरोध में 1 जून को कैजुअल्टी के सामने मुंह में लाल पट्टी बांधकर विरोध प्रदर्शन किया.

यह विरोध प्रदर्शन तीन श्रम संघों - सेंटर ऑफ स्टील वर्कर्स (संबद्ध ऐक्टू), हिंदुस्तान इस्पात ठेका श्रमिक यूनियन (संबद्ध सीटू) और लोकतांत्रिक इस्पात एवम इंजी. मजदूर यूनियन - के संयुक्त मोर्चा के नेतृत्व में आयोजित हुआ. प्रदर्शन में ऐक्टू की ओर से श्याम लाल साहू, जय प्रकाश नायर, बृजेन्द्र तिवारी, आदि शामिल थे.

भिलाई स्टील प्लांट में दुर्घटनाओं में ठेका मजदूरों की मौतों के खिलाफ प्रदर्शन

सेंटर ऑफ स्टील वर्कर्स (सीएसडब्लू), संबद्ध ऐक्टू ने 14 मई की शाम को इक्विपमेंट चैक में भिलाई स्टील प्लांट के आईआर के समक्ष प्लांट व टाउनशिप में कार्यरत ठेका श्रमिकों के साथ हो रही घोर नाइंसाफी और प्लांट में घट रही दुर्घटनाओं में हो रही इनकी मौतों के खिलाफ प्रदर्शन किया. ज्ञात हो कि 7 से 9 मई, लगातार 3 दिन प्लांट में हुई दुर्घटनाओं में 3 ठेका मजदूरों की मौत हुई. प्रबंधन की आपराधिक लापरवाही के चलते प्लांट में दुर्घटनाएं आम हो चुकी हैं. प्रदर्शन के पश्चात आईआर के सहायक महाप्रबंधक को बीएसपी के सीईओ को संबोधित 8-सूत्री ज्ञापन सौंपकर व उनसे चर्चा कर समस्याओं के त्वरित निराकरण की मांग की गई.

मजदूर-विरोधी, जन-विरोधी फासीवादी मोदी सरकार को हटाने के संकल्प के साथ मई दिवस के अवसर पर देशभर में कार्यक्रम आयोजित किये गये

अंतरराष्ट्रीय मजदूर दिवस के मौके पर देश भर में ऐक्टू और भाकपा-माले ने रैलियों, जुलूस और सभाओं के रूप में विविध आयोजन किए और मजदूर-विरोधी, जन-विरोधी व राष्ट्र-विरोधी फासीवादी संघ-भाजपा निजाम को शिकस्त देने का संकल्प लिया. पिछले अंक में समय की कमी के चलते हम इनकी रिपोर्ट नहीं दे सके. इस अंक में प्रस्तुत है मई दिवस कार्यक्रमों की सक्षिप्त में रिपोर्ट.