जुगाड़ चालकों का आंदोलन

जुगाड़ गाड़ी व चालक मजदूरों को परमिट देने व विभिन्न थानों में जब्त जुगाड़ गाड़ियों को अविलंब बिना शर्त छोड़ने आदि मांगों को लेकर जुगाड़ गाड़ी चालक संघ (संबद्ध ऐक्टू) के बैनर तले सैकड़ों जुगाड़ चालकों ने 6 फरवरी को भागलपुर कलेक्ट्रेट पर धरना-प्रदर्शन किया. धरना का नेतृत्व ऐक्टू के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष एस.के. शर्मा, राज्य सह जिला सचिव मुकेश मुक्त व जुगाड़ गाड़ी चालक संघ के जिला संयोजक रामलखन राम ने किया.

मौके पर मौजूद जुगाड़ गाड़ी चालकों एवं परिसर में मौजूद कर्मचारियों व आमजन को संबोधित करते हुए इन नेताओं ने कहा कि सरकार और प्रशासन को लोगों के रोजगार को सुरक्षित करने के बारे में सोचना चाहिए न कि रोजगार छीनने के बारे में. नेताओं ने जब्त जुगाड़ गाड़ियां न छोड़े जाने और जल्द ही परमिट-लाइसेंस नहीं दिये जाने पर आंदोलन और तीखा करने का आहृान किया.

मुकेश मुक्त के नेतृत्व में एक प्रतिनिधिमंडल ने मजिस्ट्रेट को अपना मांगपत्र सौंपा.

जुगाड़ चालकों का आंदोलन
वर्षः 13
अंकः 12