बिहार में कस्तूरबा गांधी विद्यालय के सैकड़ों कर्मियों ने घेरा मुख्यालय

कस्तूरबा गांधी बालिका विद्यालय की सैकड़ों कर्मियों द्वारा 25 अक्टूबर को अपने 10 सूत्री मांगों खासकर नियमितीकरण, मानदेय बढ़ोतरी, आदि के लिए पटना में बिहार शिक्षा परियोजना निदेशक के समक्ष जोरदार नारेबाजी के साथ प्रदर्शन करते हुए कार्यालय को ठप कर दिया. प्रदर्शन का आहृान ‘कस्तूरबा गांधी बालिका विद्यालय एम्प्लाइज यूनियन (संबद्ध ऐक्टू) ने किया था. प्रदर्शन का नेतृत्व यूनियन की अध्यक्ष कुमारी विद्यावती सिंह ने किया. प्रदर्शनकारी महिलाओं का तेवर देख बाध्य होकर राज्य शिक्षा परियोजना निदेशक ने यूनियन प्रतिनिधियों को वार्ता के लिए बुलाया. अध्यक्ष कुमारी विद्यावती की अगुवाई में राजकिशोर कुमार, कविता कुमारी, जितेंद्र कुमार जायसवाल एवं कंचन प्रियदर्शनी सहित पांच सदस्य प्रतिनिधिमंडल और राज्य परियोजना निदेशक के बीच सौहार्दपूर्ण सम्मानजनक वार्ता संपन्न हुई और निदेशक द्वारा 5 मांगों को शीघ्र पूरा करने का आश्वासन दिया गया. मांगों में शामिल हैंः कस्तूरबा कर्मियों की सूची नियमितीकरण हेतु उच्च स्तरीय समिति को शीघ्र भेजना, पीएबी द्वारा अनुमोदित मानदेय वृद्धि की राशि 1.4.2018 के प्रभाव से भुगतान करना एवं अनुदेशिका एवं अन्य कर्मियों की नियुक्ति में अधिभार देते हुए प्राथमिकता देना, कस्तूरबा कर्मियों को ईपीएफ व बीमा तथा 4 लाख अनुग्रह अनुदान राशि का लाभ देना और कस्तूरबा विद्यालय में सुरक्षा के दृष्टिकोण से चार महिला पुलिस की तैनाती की व्यवस्था.

मांगों की शीघ्र पूर्ति की अपील के साथ व माने नहीं किए जाने पर पुनः आन्दोलन के लिये तैयार रहने के आहृान के साथ प्रदर्शन समाप्त हुआ. ु

 

Kasturaba-Gandhi-Vidyalaya
वर्षः 13
अंकः 8